X Close
X

भूटान जाएंगे पहली विदेश यात्रा पर जयशंकर, दो दिनों का होगा दौरा


external_affair_minister_s_jaishankar_photo_vipin_kumar_june_6_2019__1559836608
Lucknow:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अपनी पहली विदेश यात्रा (Foreign Tour) के लिए पड़ोस प्रथम की नीति के तहत मालदीव को चुना है तो विदेश मंत्री एस जयशंकर (Jaishankar) शुक्रवार को अपनी पहली विदेश यात्रा पर भूटान जाएंगे। उनका दौरा दो दिनों का होगा। चीन की इस इलाके में रुचि को देखते हुए जयशंकर का दौरा काफी अहम माना जा रहा है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि यात्रा के दौरान जयशंकर भूटान के प्रधानमंत्री लोटेय शेरिंग से मुलाकात करेंगे। भूटान के नरेश जिग्मे खेशर नामग्याल वांगचुक से भी उनकी बातचीत होगी। वह भूटान के अपने समकक्ष टांडी दोरजी से भी मिलेंगे। प्रवक्ता ने कहा, विदेश मंत्री के तौर पर जयशंकर का विदेश का यह पहला दौरा होगा। उनकी यात्रा इस परंपरा के अनुरूप है कि भारत अपने करीबी मित्र एवं पड़ोसी भूटान के साथ द्विपक्षीय संबंध को महत्व देता है। भूटान, भारत का करीबी सहयोगी है और पिछले कुछ वर्षों में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंध नई ऊंचाइयों पर पहुंचा है। कुमार ने कहा, भारत और भूटान के अनूठे और सदाबहार संबंध हैं। यह आपसी भरोसे, सद्भावना और आपसी समझ पर आधारित है। उन्होंने कहा कि इस दौरान, दोनों देशों के बीच आगामी उच्च स्तरीय आदान-प्रदान, आर्थिक विकास और पनबिजली सहयोग सहित द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा होगी। अभियान को जारी रखेंगे जयशंकर ने कहा, विदेशों में भारतीयों की मदद करने के लिए सुषमा स्वराज के सोशल मीडिया अभियान को जारी रखेंगे। परेशानी में फंसे भारतीयों पर अत्याधिक जोर दिया जाएगा और अब वे सरकार के उन तक पहुंचने की उम्मीद कर सकते हैं। दुनिया में भारत का कद बढ़ा जयशंकर ने गुरुवार को कहा, भारत के अधिकतर लोग मानते हैं कि पिछले पांच साल में दुनियाभर में देश का कद बढ़ा है। उन्होंने कहा कि एनडीए सरकार को लगातार दूसरी बार मिली जीत में इसकी भूमिका अहम रही। जयशंकर ने कहा कि विश्व में नया संतुलन स्थापित हो रहा है और चीन का उभार तथा कुछ हद तक भारत का उभार भी इसका ज्वलंत उदाहरण है। The post भूटान जाएंगे पहली विदेश यात्रा पर जयशंकर, दो दिनों का होगा दौरा appeared first on Everyday News.
Everyday News