X Close
X

एससीएसटी एक्ट के खिलाफ सवर्णो ने भरी हुंकार, भारत बंद का दिख रहा मिलाजुला असर


06_09_2018-06agrtrain_18395350_113128
Lucknow:आगरा । अनुसूचित जाति और जनजाति कानून के कठोर प्रावधानों के विरोध में और देश की आजादी के बाद से चली आ रही जातिगत आरक्षण व्यवस्था की समीक्षा की मांग को लेकर सवर्ण समाज द्वारा किये जा रहे भारत बंद आंदोलन का असर देशभर में व्यापक रूप से दिखाई दे रहा है। गुरुवार को सुबह से ही शहर से लेकर देहात तक बंद का असर दिखाई दे रहा था। सवर्ण समाज में एससीएसटी एक्ट के विरोध में पनप रहा गुस्सा दुकानों पर लटके तालों के रूप में दिखाई दे रहा था। सुबह से लोगों ने अपने प्रतिष्ठान नहीं खोले। कार्यालयों पर ताले लटक रहे थे शहर के तमाम स्कूलों में छुट्टी घोषित हो गई। सड़क से लेकर रेलवे की पटरियों तक पर लोगों ने एक्ट के विरोध में प्रदर्शन किया। आगरा में कमला नगर बाजार 80 फीसद बंद रहा। यहां के सभी स्कूल भी बंद थे तो कुछ हॉस्पीटलों में ओपीडी भी नहीं लगी। शाहगंज, राजामंडी, सदर बाजार, सुभाष बाजार, दरेशी, बेलनगंज आदि बाजारों में बंद का असर दिखाई दिया। अछनेरा के न्यू दक्षिणी बाईपास पर ग्रामीणों ने जाम लगा दिया। फतेहाबाद रोड पर भी भारत बंद का असर दिखा। सवर्णो के समर्थन सवर्णो के समर्थन में ओबीसी वर्ग के लोग ने जाम लगाकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। पिनाहट के भदरौली रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों ने आगरा- इटावा पैसेंजर ट्रेन को रोक सरकार विरोधी नारे लगाए। खंदौली में यमुना एक्सप्रेस वे पर ग्रामीणों ने जाम लगा दिया। एत्मादपुर के कुबेरपुर हाइवे को भी ग्रामीणों ने जाम कर दिया।मथुरा जिले में लोगों ने स्वतः ही बाजार बंद रखा। यहां सुबह लोगों ने अपनी दुकानें नहीं खोलीं। सुबह थोड़ी देर के लिए खोला गया सब्जी बाजार भी बंद कर दिया गया। लोग एक्ट के विरोध में सड़कों पर उतर आए। बाजार बंद होने की खबर पर पुलिस भी अलर्ट हो गई। बाजारों में पुलिस गश्त कर रही है। उधर वृंदावन में भी आंदोलन की चिंगारी सुलगने लगी है। यहां प्रतिदिन बाजार सुबह नौ बजे तक खुल जाता था लेकिन गुरुवार को खबर लिखे जाने तक दुकानें बंद थीं। फीरोजाबाद जिले के टूंडला और शिकोहाबाद में जुलूस निकाल कर लोगों ने अपना विरोध जताया। फीरोजाबाद शहर में दुकानें नहीं खुलीं। पुलिस फोर्स चप्पे चप्पे पर तैनात रहा। नारखी के रिजवाली चैराहे पर लोगों ने प्रदर्शन किया। कासगंज: जिले के बाराद्वारी पर सवर्ण समाज के लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। तीर्थनगरी सोरों में भी बंद का असर दिखा। वहीं जिले के सहावर कस्बे में बंद का असर नहीं दिखाई दिया। व्यापारियों ने दुकानें खोले रखीं। मैनपुरीरू मैनपुरी जिले के भोगांव स्थित मोटा रेलवे स्टेशन पर दर्जनों ग्रामीणों ने फर्रुखाबाद- शिकोहाबाद पैसेंजर ट्रेन रोक ली। ट्रेन रोकी प्रदर्शनकारी इंजन पर चढ़ गए और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। 45 मिनट तक ट्रेन ट्रेक पर खड़ी रही। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बमुश्किल प्रदर्शनकारियों को समझाया और ट्रेन को रवाना किया। किशनी में व्यापारियों ने दुकानें बंद कर प्रदर्शन किया। शहर में खुली कुछ दुकानों को करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी करते हुए बंद करवाया। एटारू जिले के जलेसर में बाजार पूरी तरह बंद रहे। लोगों ने दुकानें बंद कर एक्ट का विरोध किया। इसके बाद भाजपा विधायक संजीव दिवाकर के आवास को घेरकर नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। एटा शहर में सवर्ण मोर्चा के आह्वान पर प्रमुख बाजार बंद रहे तो कस्बाई इलाकों में बंद का मिलाजुला असर दिखाई दिया। The post एससीएसटी एक्ट के खिलाफ सवर्णो ने भरी हुंकार, भारत बंद का दिख रहा मिलाजुला असर appeared first on Everyday News.
Everyday News